Usi Din Se Whatsapp Se Nafrat Ho Gayi Ghalib,
Jab Baal Katwane Ke Liye Admin Ne Chanda Maang Liya.
उसी दिन से व्हाट्सएप्प से नफरत हो गयी ग़ालिब,
जब बाल कटवाने के लिए एडमिन ने चंदा माँग लिया।

Dil Mein Koi Gham Nahi Baaton Mein Koi Dam Nahi,
Yeh Grup Hai Nawabon Ka Yehan Koi Kisi Se Kam Nahi.
दिल में कोई गम नहीं बातों में कोई दम नहीं,
ये ग्रुप है नवाबो का यहाँ कोई किसीसे कम नहीं।

Humari Kismat Hi Kuchh Aisi Nikli Ghalib,
Zameen Mili Toh Banjar Aur Admin Mila Toh Kanjar.
हमारी किस्मत ही कुछ ऐसी निकली ग़ालिब,
ज़मीन मिली तो बंजर और एडमिन मिला तो कंजर।

Hum DilPhenk Aashiq Har Kaam Mein Kamaal Kar Dein,
Jo Vaada Kare Woh Pura Har Haal Mein Kar Dein,
Kya Zarurat Hai Ladkiyo Ko Lipistic Lagane Ki,
Hum Chum-Chum Ke Hi Honth Laal Kar Dein.
हम दिलफेक आशिक़ हर काम में कमाल कर दे,
जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे,
क्या जरुरत है लड़कियों को लिपस्टिक लगाने की,
हम चूम-चूम के ही होंठ लाल कर दें।

Kala Na Kaho Mere Mahboob Ko,
Kala Na Kaho Mere Mahboob Ko,
Khuda Toh Til Bana Raha Tha,
Syaahi Ka Pyala Lurhak Gaya.
काला न कहो मेरे महबूब को,
काला न कहो मेरे महबूब को,
खुदा तो तिल ही बना रहा था,
स्याही का प्याला लुढ़क गया।

Chali Jati Hain Wo Beauty Parlour Mein Yun,
Unka Maksad Hai Misaal-E-Hoor Ho Jana,
Ab Kaun Samjhaye Inn Pagal Ladkiyo Ko,
Mumkin Nahi Kishmish Ka Fir Se Angur Ho Jana.
चली जाती है वो ब्यूटी पार्लर में यूं,
उनका मकसद है मिशाल-ए-हूर हो जाना,
अब कौन समझाये इन पागल लड़कियों को,
मुमकिन नहीं किशमिश का फिर से अंगूर हो जाना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here